भजन गायक से ‘भजन सुपारी’ बनने की मनोरंजक यात्रा है फिल्म ‘भजन सुपारी’

निर्देशक सुजीत गोस्वामी की फिल्म मुम्बई और गुजरात में 31 मई को होगी रिलीज

कोई भी फिल्म छोटी या बड़ी नहीं होती फिल्म का सब्जेक्ट बड़ा या छोटा होता है. यह कहना है जल्द रिलीज़ होने जा रही फिल्म ‘भजन सुपारी’ के निर्देशक सुजीत गोस्वामी का. उनका मानना है कि अगर आपके पास फिल्म का बजट ज्यादा नहीं है तो कोई जरूरत नहीं है जाने-माने अभिनेताओं को लेने की. आपकी फिल्म का हीरो आपकी फिल्म की कहानी होती है.  लेखक, गीतकार, निर्देशक और टेक्नीशियन इत्यादि मिलकर फिल्म को सुंदर बनाते हैं. इसका मतलब यह कतई नहीं है कि कोई फिल्म महंगे कलाकारों से ही अच्छी होती है. वहीं फिल्म की प्रोड्यूसर इला पांडे ने फिल्म के सारे कलाकारों टेक्नीशियन का आभार व्यक्त किया है और उन्होंने बताया है कि उनकी फिल्म में थिएटर, फिल्म और टीवी के कलाकारों ने काम किया है कोई बड़ा चेहरा उनकी फिल्म में नहीं है. उन्होंने संक्षेप में अपनी फिल्म की स्टोरी बताइ जो इस प्रकार है। नायक के साथ नायिका के घर मे कुछ मजेदार व अद्भुत घटनाये घटती है। इन घटनाओं की वजह से उसकी जिंदगी बदल के रह जाती है। दगडू भाई (बॉस) नाम का खलनायक भजन कुमार उर्फ पारस का गलत फायदा उठाना चाहता है।

भजन गायक से भजन सुपारी बनने की ऐसी यात्रा है जो कामेडी से सस्पेंस और हारर के बीच रोमांस का जादू जगाती है. दर्शकों में एक मीठी गुदगुदी का एहसास जगाएगी. अद्भुत कहानी वाली यह फ़िल्म लोगो को खूब पसंद आने वाली है। आर्यावर्त मीडिया क्रिएशनस की प्रस्तुति “भजन सुपारी” के निर्देशक सुजीत गोस्वामी, निर्मात्री इला पाण्डेय, कार्यकारी निर्माता दिग्विजय सिंह, कैमरा मैन मनीष पटेल, पटकथा लेखक प्रो. नंदलाल सिंह, सह लेखक उमा शंकर श्रीवास्तव, विक्रम सिंह कथाकार सुजीत गोस्वामी और कलाकार सुजीत गोस्वामी, इला पांडेय, नरेन्द्र आचार्या, उमेश भाटिया, सुनील झा, नैंसी सेठ, अपर्णा पाठक, अष्टभुजा मिश्रा, विनय सहाय हैं. फिल्म के गायकों में उदित नारायण झा, दिव्या कुमार, रेखा राव, पामेला जैन, राजा हसन, दीपक गिरी, राहुल हैं. गीतकार डॉक्टर ब्रजेन्द्र त्रिपाठी, आर्य प्रिय, सुजीत गोस्वामी, संगीतकार नरेंद्र निर्मल, नृत्य निर्देशक कीर्ति कुमार, अनुज मौर्य और एडिटर अजय गुप्ता हैं. फिल्म ‘भजन सुपारी’ मुम्बई और गुजरात में 31मई को रिलीज होने जा रही है.

Print Friendly, PDF & Email